लो ब्लड प्रेशर के लक्षण, दवा, उपचार और 15 देसी उपाय

( लो बीपी ) लो ब्लड प्रेशर के लक्षण, कारण व घरेलू उपचार

अनार, आंवला, गन्ने और चुकंदर का रस लो ब्लड प्रेशर की दवा का काम करता है और लो बीपी का उपचार करने लिए हमेशा घरेलू तरीकों का ही इस्तेमाल किया जाना चाहिए क्यूंकि इनका कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता है और आयुर्वेदिक इलाज से रोग को जड़ से खत्म किया जा सकता है|

Low Blood Pressure Ki Dawa aur Ilaj

Contents

लो ब्लड प्रेशर क्या है

अक्सर लोग कहते हैं कि उनका बीपी लो हो रहा है जिससे उनको घबराहट महसूस होने लगती है| दरअसल, लो ब्लड प्रेशर होने पर हमारे शरीर में रक्त का बहाव बेहद कम हो जाता है और शरीर के अंगों तक पर्याप्त रक्त नहीं पहुंच पाता जिसके परिणामस्वरूप शरीर के अंगों को कार्य करने में कठिनाई होने लगती है और ऐसे में रोगी बेहोशी की अवस्था में भी पहुंच सकता है|

लो बीपी (निम्न रक्तचाप) के कारण

हमारी दैनिक दिनचर्या हमारे पूरे शरीर को प्रभावित करती है| आप क्या खा रहे हैं? नींद कितनी ले रहे हैं? व्यायाम कर रहे हैं या नहीं? आप तनाव कितना लेते हैं अर्थात आपकी जीवनशैली ही आपके खराब स्वास्थ्य का सबसे बड़ा कारण होती है| आइये जानें कि लो ब्लड प्रेशर के मुख्य कारण क्या हैं –

1. शरीर में खून की कमी होना
2. थायराइड ग्रंथि का ठीक प्रकार से कार्य ना करना
3. डायबिटीज होना
4. बहुत अधिक गुस्सा
5. सदमा लग जाना
6. बहुत अधिक तनाव में होना
7. मोटापा होना
8. कोई भयानक फिल्म या चित्र देखना
9. अनियमित खानपान
10. डिहाइड्रेशन अर्थात पानी की कमी
11. हार्ट की कोई बीमारी होना

लो ब्लड प्रेशर के लक्षण और इसकी पहचान

एक समय व्यक्ति का ब्लड प्रेशर 120/80 mmHg होता है, अगर आपका ब्लड प्रेशर 100/60 mmHg से कम तो आप लो ब्लड प्रेशर के मरीज हैं| लो बीपी होने पर पर्याप्त खून हमारे अंगों तक नहीं पहुंच पाता और जिससे हार्ट, किडनी, लीवर आदि महत्वपूर्ण अंग कार्य करना बंद कर सकते हैं रक्तचाप निम्न होने पर रोगी के शरीर में ऐसे लक्षण दिखाई देने लगते हैं –

1. आँखों के आगे अँधेरा छा जाना
2. हाथ पैर ठन्डे हो जाना
3. घबराहट महसूस होना
4. सांस लेने में तकलीफ होना
5. चक्कर आना
6. कमजोरी महसूस करना
7. डिप्रेशन महसूस होना
8. अधिक प्यास लगना
9. चलने फिरने में दिक्कत हो जाना
10. थकान और सिर दर्द बढ़ जाना

ये सभी निम्न रक्तचाप की मुख्य पहचान है|

कुछ रोगियों में ब्लड प्रेशर के लक्षण दिखाई नहीं देते परन्तु ब्लड प्रेशर अगर ज्यादा कम हो जाये तो व्यक्ति कोमा में भी जा सकता है या हार्ट ब्लाक होकर मृत्यु की स्थिति आ सकती है, इसलिए समय- समय पर रक्तचाप की जांच कराते रहें|

लो ब्लड प्रेशर की दवा, उपाय और घरेलू उपचार

जब भी किसी व्यक्ति का ब्लड प्रेशर लो होता है तो वह सीधा डॉक्टर के पास जाता है और डॉक्टर उसे कुछ दवाइयां देता है| इस प्रकार, अब रोगी नियमित रूप से ब्लड प्रेशर की दवाइयों का सेवन शुरू कर देता है परन्तु आप इस बात से अनजान हैं कि इस तरह रेगुलर दवाइयों का सेवन आपकी किडनी को जल्दी ही खराब कर देता है| इसीलिए लोगों को आयुर्वेदिक तरीकों का इस्तेमाल करना चाहिए एक तो आयुर्वेदिक इलाज सस्ता होता है और दूसरा इसके नकारात्मक प्रभाव नहीं होते हैं

यहाँ हम आपको लो ब्लड प्रेशर के उपचार के बारे में बताने जा रहे हैं –

नमक से करें लो बीपी का इलाज

जब भी ब्लड प्रेशर लो हो जाये तो सबसे पहले एक गिलास ताजा पानी लेकर उसमें एक चम्मच नमक मिला लें अब चम्मच से नमक को अच्छी तरह से पानी में घोल लें और रोगी को पिला दें|

नमक में सोडियम पाया जाता है और यह लो ब्लड प्रेशर के लिए बेहद अच्छा माना जाता है ध्यान दें, बहुत अधिक नमक का सेवन भी हानिकारक होता है इसलिए एक चम्मच से ज्यादा नमक का सेवन ना करें|

कैफीन का सेवन करें

लो ब्लड प्रेशर होने पर कैफीन का सेवन फायदेमंद होता है| कैफीन में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो ब्लड प्रेशर को बढ़ा देते हैं| लो ब्लड प्रेशर महसूस होने पर एक कप कॉफी का सेवन करें इसमें अच्छी मात्रा में कैफीन पाया जाता है| साथ ही डार्क चॉकलेट में भी कैफीन पाया जाता है और यह भी आपके लिए लाभदायक है|

नींबू पानी दिलाता है लो ब्लड प्रेशर से राहत

नींबू में विटामिन सी बहुत प्रचुर मात्रा में पाया जाता है| जिन फलों और सब्जियों में विटामिन सी पाया जाता है वे सभी लो ब्लड प्रेशर में फायदेमंद हैं| नींबू ब्लड प्रेशर नार्मल करता है साथ ही पाचन क्रिया को पहले से अधिक सुगम बनाता है|

एक ताजा रसदार नींबू को एक गिलास पानी में निचोड़ लें| अब इस पानी में अपने स्वादानुसार थोड़ी चीनी और नमक मिला लें, और इस पानी का सेवन करें| इससे रक्तचाप तुरंत नार्मल हो जाता है और डिहाइड्रेशन की समस्या भी खत्म हो जाती है|

किशमिश और मुनक्का का सेवन करें

किशमिश और मुनक्का खाना, लो ब्लडप्रेशर के मरीजों के लिए लाभदायक है| रात को 7 से 10 किशमिश और 4 से 5 मुनक्का पानी में भिगोकर डाल दें| अब सुबह किशमिश और मुनक्का का सेवन करें, साथ ही जिस पानी में भिगोये थे उस पानी का भी सेवन कर लें|

तुलसी के पत्तों से करें लो ब्लड प्रेशर का इलाज

तुलसी के पत्तों में एंटी बायोटिक, एंटी बैक्टीरियल तत्व होते हैं| दस से पंद्रह तुलसी की पत्तियां लेकर उन्हें एक गिलास पानी में डालें| अब इस पानी में 4 कालीमिर्च और 4 लौंग डाल दें और इस पानी को गर्म करें| इस प्रकार आपका काढ़ा तैयार हो जायेगा| इस काढ़े का सेवन करने से लो ब्लड प्रेशर में लाभ होता है|

चुकंदर करती है लो ब्लड प्रेशर का उपचार

जिन लोगों के शरीर में खून की कमी होती है उन्हें भी लो ब्लड प्रेशर की शिकायत रहती है ऐसे में चुकंदर का सेवन करना बहुत अधिक फायदेमंद साबित होता है| चुकंदर शरीर में खून की मात्रा को बढाती है| रोजाना चुकंदर का रस निकालकर पियें या फिर चुकंदर को खा भी सकते हैं|

टमाटर के रस का करें इस्तेमाल

टमाटर का रस भी निम्न रक्तचाप के मरीजों को फायदा पहुँचाता है| जब व्यक्ति का ब्लड प्रेशर डाउन हो जाये तो उसे टमाटर के रस में थोड़ा सा नमक और लौंग का पाउडर मिलाकर पिलाएं, इससे रोगी को तुरंत फायदा होगा|

आंवला का रस, लो ब्लड प्रेशर में है फयदेमंद

हमने पहले भी बताया है कि विटामिन सी से युक्त जितनी भी चीज़ें हैं वो सभी लो ब्लड प्रेशर के लिए फायदेमंद हैं और आंवला में बहुत अधिक मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है|

आंवला का जूस निकालकर इसका सेवन करें, अपने स्वाद के अनुसार जूस में थोड़ा शहद भी मिला सकते हैं| आंवले का मुरब्बा भी लो ब्लड प्रेशर की बहुत अच्छी दवा है|

गन्ने का रस का सेवन करें

ब्लड प्रेशर लो होने पर कुछ लोगों के हाथ पैर एकदम ठन्डे हो जाते हैं और शरीर में निर्बलता महसूस होने लगती है| ऐसे लोगों को गन्ने के रस में नमक मिलाकर पीना चाहिए इससे तुरंत आराम मिलता है|

गाजर का जूस है लो ब्लड प्रेशर की सबसे अच्छी दवा

जी हाँ, गाजर के जूस को निम्न रक्तचाप की बहुत उत्तम दवा माना गया है| रोजाना एक गिलास गाजर का रास पियें, आप चाहें तो इसमें एक चम्मच शुद्ध शहद मिला सकते हैं| इसके सेवन से लो ब्लड प्रेशर की शिकायत दूर होती है|

छाछ भी लो बीपी में होती है फायदेमंद

छाछ जिसे गाँव में मठ्ठा भी कहा जाता है| ताजा एक गिलास छाछ में एक चुटकी काला नमक और एक चम्मच भूना हुआ जीरा डाल लें| जीरे को भूनने के लिए आप जीरे को तवे पर डालें और हल्की आंच पर उसे भून लें| अब छाछ में नमक, जीरे को अच्छी प्रकार से मिलाकर रोगी को इसका सेवन कराएं| इससे रोगी का रक्तचाप सामान्य हो जायेगा|

बादाम का सेवन करना शुरू करें

बादाम खाने से भी ब्लड प्रेशर की समस्याओं में आराम मिलता है| रात को बादाम पानी में भिगोकर छोड़ दें, सुबह इन बादामों को पीसकर बारीक़ चटनी बना लें| अब इस चटनी को गर्म दूध में डालकर इसका सेवन करें इससे दिल मजबूत होता है और निम्न रक्तचाप की समस्या खत्म होती है|

खट्टे फल जैसे मौसमी, अनानास, संतरा, आंवला इन सभी में भरपूर विटामिन सी पाया जाता है और इनके जूस का सेवन नियमित रूप से करने वाले व्यक्ति को लो ब्लड प्रेशर की समस्या कभी जीवनभर नहीं होगी|

तो मित्रों इस लेख में हमने आपको लो ब्लड प्रेशर की बिमारी के बारे विस्तार से बताया है साथ ही इसके बेहतरीन इलाजों के बारे में दीर्घ चर्चा की है| हम आशा करते हैं कि आपको हमारे इस लेख से फायदा जरूर होगा| इस लेख को अपने सोशल मिडिया पर भी शेयर करें ताकि अन्य सभी लोग भी इसका लाभ उठा सकें| धन्यवाद!!

ये घरेलू इलाज भी जरुर आजमायें –
चेहरे के दाग धब्बे मिटाने के उपाय, तरीके और घरेलू नुस्खे
तेज सिर दर्द की दवा, इलाज, उपाय
हाई बीपी के लक्षण, कारण, आहार
कोलेस्ट्रॉल के लक्षण, इलाज और कोलेस्ट्रॉल कम करने के उपाय
हाई बीपी का इलाज, दवा, घरेलू उपचार
धूम्रपान छोड़ने के उपाय, दवा और गारंटीड तरीके
गर्भवती महिला के लिए भोजन, आहार लिस्ट
टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने के उपाय, घरेलू तरीके
उल्टी रोकने के उपाय व जी मिचलाना का इलाज
चिकनगुनिया के लक्षण, घरेलू उपचार, इलाज

Rating: 5.0/5. From 1 vote.
Please wait...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *